Banned Gay Conversion Mobile Application

0
237

तो आ गए आप, कैसे हो?

मेरे प्यारो, भारत तो Digital हो ही रहा है, साथ मे पाखंड भी Digital हो रहा है। मैं आपको एक ऐसी Mobile Application के बारे में बताने जा रहा हु, जो कि भगवान को भी कहती है। अपना हिल्ला देख।😂 भैया ये App बिल्कुल ऐसे ही है, जैसे गाँव मे झंडू बाबा होते है, जो कि दावा करते है, कि गर्भवती महिला के पेट मे जो बच्चा है, उसका लिंग ही परिवर्तित कर देंगे हम। लड़की का लड़का बना देंगे हम। भगवान वो क्या चीज़ है इनके आगे वो तो इनके यहाँ Ludo खेलते फिरते है। भैया Persnol Laboratry है। इनकी ये सुअर के मुह में भैस का मुँह लगा के अलग प्रकार की प्रजाति इजात कर देते है। अबे इनके चक्करो में ना पड़ा करो, लेहैंडी होते है ये।
बस कुछ इसी तरह का दावा करती है, Living Hope Ministries App ये कहती है कि यदि कोई Gay है, तो उसे हम Strait कर देते है यानी Gay को हम Convert करके ठीक कर देंगे, कैसे? Audio सुना के, Video दिखा के यानी Phycological Treatment करके हम उसे ठीक कर देंगे। सबसे पहले ऐसे बेहुदा लोगो को मैं बताना चाहूँगा के Gay होना कोई Mental Disorder नही है। American Psychiatric Institute, American Medical Institute ओर पता नी कितने institute ओर Doctor है, जिन्होंने Clear कर दिया है कि भैया Gay होना कोई बीमारी नही है। कोई Mental Disorder नही है जिसको की तुम ठीक कर दोगे। ये भगवान की एक रचना है और अभी जब कि 2019 चल रहा है। आज की स्थिति में इन सब चीज़ों को थोड़ा Normal लेना सीखो। ये कोई बीमारी नही ओर इस तरह की चीज़ें लोगो को केवल बेवकूफ बनाने के लिए है। ये Gay को तो Normal नही बनाती लेकिन लोगो को लेहैंडी ज़रूर बनाती है और इसी कारण ये App Apple App Store से Deleate कर दी। Amazone App Store से Delete कर दी।LGBT की Pressure के कारण Google Play Store से भी Deleate कर दी गयी है। क्योंकि ऐसा कुछ होता ही नही है। सब सरासर बेवकूफ़ी वाली बात है। तो आप सभी से निवेदन है कि यदि आप ऐसी कोई App देखो तो उसको तुरंत Report करो।
बता दू की ऐसा पहली बार नही है ऐसी कई Apps पहले भी Deleate कराई जाती रही है। 2011 में भी एक ऐसी पागलपंती वाली App, Deleate करी गयी थी, क्योंकि ऎसा कुछ होता ही नही है ओर आप लोगो से भी मैं निवेदन करुगा कि 2019 चल रहा है। इस वक्त में इन सब चीज़ों को थोड़ा नार्मल लेना सीखे। अपनी थोड़ी Critical Thinking बढ़ाओ ये बिल्कुल बेवकूफाना बात है। बल्कि कोई Petition वगरैह Sign की 1.40 lakh लोगो ने तब जा के तो ये Delete हुई थी, क्योंकि लोग Humiliate हो रहे थे, जो कि सही भी बात है।
इन Aaps को Report करे ऐसा ज़रूरी नही है कि आप पीड़ित हो तभी किसी पीड़ित की मदद करे।

तो बस मेरा हो गया
अर्ज़ किया है कि
ऐसी सोच रखने वालों और ऐसी App बनाने वालों की ज़िंदगी बिल्कुल झंड है,
फिर भी इन सालो को खुद पर घमंड है,
भैया अब जरा संभल कर रहना,
क्योंकि दुनिया मे तगड़ा Digital पाखंड है।🤣🤣
बोलो जय माता दी।

Leave a Reply