Supreme Court:- TikTok को झटका, अब नहीं कर पाओगे Download

0
423

तो आ गए आप, कैसे हो?

images - 2019-04-05T232919.068

दोस्तो आज सुबह सुबह कई लोगो को तगड़ा सदमा लग गया कई तो रोये जा रहे है सुबह से😂 क्युकी बात ही ऐसी है, असल मे बात ये है कि Supreme Court ने Short Video Mobile application TikTok पर लगी रोक पर राहत देने से इनकार कर दिया है। कोर्ट के फैसले के बाद केंद्र सरकार ने Google और Apple से कहा कि वह इसके Download पर रोक लगाए। इस मोबाइल Application पर पहले Madras High Court ने रोक लगाई थी। बाद में यह मामला Supreme Court पहुंचा। Supreme Court ने High Court के फैसले पर Stay लगाने से इनकार कर दिया। Supreme Court के फैसले के बाद सूचना प्रसारण मंत्रालय ने यह कदम उठाया और Google और Apple से कहा कि भैया बहुत हो गया इनका Ban करो और इस तरह आज जब आप App Store में इस App को ढूंढोगे तो घन्टा मिलेगा।😂 और फिर भी ज़्यादा मैन हो तो भैया China ही चले जाना।😜

खैर अब बड़ी बात ये है कि इस मामले की अगली सुनवाई अब 22 अप्रैल को होगी। मामले की सुनवाई chief justice Ranjan Gogoi की अगुवाई वाली Bench कर रही है। Madras High Court भी इस मामले की अगली सुनवाई 16 अप्रैल को करने वाली है। मंत्रालय की तरफ से निर्देश जारी होने के बाद उम्मीद की जा रही है कि इस App के Download करने पर पाबंदी लग जाएगी। हालांकि, जिन लोगों के फोन में TikTok App पहले से है, वे इसका इस्तेमाल को जारी रख सकते है। ये तो बडा भेदभाव है। जे तो बड़ी गलत बात हो रही है बई।

इस सब मामले में आपका जानना ज़रूरी है कि आखिर पूरा मामला शुरू कहा से हुआ और क्यों हुआ? तो सबसे पहले Madras High Court ने 3 April को TikTok App पर इसलिए रोक लगा दी थी कि, क्योंकि उसका मानना है कि इससे बच्चों पर बुरा असर पड़ेगा। TikTok की लोकप्रियता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि यह दुनिया में तीसरा सबसे ज्याद Install किया जाने वाला Mobile Application है। केवल मार्च महीने में दुनियाभर में 18.8 करोड़ लोगों ने इस एप को Download किया था। केवल भारत में 8.8 करोड़ Users ने इस App को Download किया था। पूरी दुनिया में 50 करोड़ से ज्यादा लोग इस Application को Use करते हैं, लेकिन एक बात ये निकल कर सामने आई कि इसमें Adult Content की भरमार थी। Age Restriction मात्र नाम के लिए थी इसलिए दुखी हो कर पहले Madras High Court ओर अब Supreme Court ने भी इसकी लंका लगा दी है।😂
बोलो जय माता दी।

Leave a Reply