2011 World Cup hero Yuvraj Singh retires from international cricket

0
85

तो आ गए आप, कैसे हो?

दोस्तो मेरे प्यारे भाइयो यहां जो मेरे दोस्त Yuvraj Singh के Fan है, उनके लिए खबर थोड़ी दुखद है कि भारतीय ऑल राउंडर युवराज सिंह ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। उन्होंने Press Conference में इस बात का ऐलान किया और इस दौरान सिक्सर किंग युवी भावुक हो गए। युवराज सिंह लंबे समय से काफी समय से भारतीय टीम से बाहर चल रहे थे बल्कि अभी भी मौजूदा World Cup की Team में उन्हें चुना नहीं गया था। इस दौरान युवराज भावुक हो गए और कई बार बात करते हुए उनका गला रुंधता सा लगा। युवराज ने 2011 का World Cup जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थीपिछले कुछ सालों में उन्होंने अपने जीवन मे कई उतार चढ़ाव देखे जैसे उनको Cancer जैसी गंभीर बीमारी हो जाना ओर कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर पाना। फिलहाल तो वो काफी दिन से ही Team से बाहर चल रहे थे। शायद इन्ही सब से Disturb हो कर उन्होंने ये फैसला ले हो।

images (52).jpeg

अपनी Press Conference में उन्होंने कहा कि Cricket में 25 और अंतरराष्ट्रीय Cricket में 17 साल के उतार-चढ़ाव के बाद मैंने आगे बढ़ने का फैसला किया है। अपनी बात को आगे बढ़ते हुए युवी ने कहा कि इस खेल ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है कि कैसे लड़ना है और गिरने के बाद फिर से कैसे उठना है और आगे बढ़ना है। बता दे कि इन सब के बीच थोड़े भावुक दिख रहे थे युवराज। पूरी तरह भावुक होकर युवराज ने कहा कि मैंने कभी हार नहीं मानी। 2011 का World Cup जीतना मेरे लिए सपने जैसा था। मैंने अपने पिता का सपना पूरा किया। उनके भाव मे कभी खुशी दिख रही थी कभी उदासी।

images (53).jpeg
Yuvraj Singh: After 25 years in and around the 22 yards and almost 17 years of international cricket on and off, I have decided to move on. This game taught me how to fight, how to fall, to dust off, to get up again and move forward pic.twitter.com/NI2hO08NfM
ये है उनका Carrer Chart :-

अगर उनके करियर की बात करे तो सबसे अहम लम्हा वो याद आता है जब उन्होंने 2007 के T 20 World Cup में England के साथ हुए Match में एक Over में छह छक्के लगाए थे। युवी के लिए सबसे बड़ी चीज 2011 का World Cup था, जिसमें उन्होंने चार अर्धशतक और एक शतक लगाया था। इस दौरान उन्होंने 15 विकेट भी झटके थे। उनके इस प्रदर्शन की वजह से ही वो Man Of The Tournament बने।
युवराज ने 304 One Day खेले थे जिनमे उन्होंने 8701 रन बनाए थे। उन्होंने 58 T 20 मुकाबले भी खेले थे। जिसमें उन्होंने 1177 रन बनाये है।

इसके साथ ही उन्होंने Cricet को अलविदा कह दिया।
हम तो यही चाहेंगे कि वो जहाँ ओर जैसे भी रहे खुश रहें।
बोलो जय माता दी।😊

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here