जानिए Siachen के बारे में ये 5 चौकाने वाले Facts

0
93
तो आ गए आप, कैसे हो ?
images - 2019-09-26T192624.381.jpeg

दोस्तों आप सब ने भारत के मशहूर Siachen ग्लेशियर के बारे में तो सुना होगा। हाँ ये वही जगह है जहाँ का तामपान  हमेशा लगभग minus 22  डिग्री और उसे नीचे ही रहता  है। ये वही जगह है जहाँ हर साल ना  जाने कितने भारतीय जवान देश की रखवाली करते हुए , बर्फ में दब कर मर जाते है। ये जगह दुनिया की चंद खतरनाक और सबसे कठिन जगहों में से एक है। पर फिर भी हमारे वीर भारतीय जवान यहाँ अपना देश प्रेम दिखाने से नहीं चूकते। हाल ही में इंडियन आर्मी ने एक प्रपोजल को मंजूरी दी है , जिसके तहत अब Siachen ग्लेशियर को आम लोगो के लिए भी खोल दिया जायेगा यानी अब Civilians चाहे तो यहाँ जाकर First Hand Experience कर सकते है उस कठिन Environment का जिसमे भारतीय जवान देश की रक्षा के लिए अपने प्राण गवां देते है। तो चलिए जानते है पांच ऐसे facts के बारे में जिनसे आप पहले अनजान थे।

1 . Siachen इंडिया के लिए Strategically बहुत महत्वपूर्ण है। क्योकि  तब तक यह भारत के कण्ट्रोल में है पाकिस्तानी और चीनी दुश्मन एक साथ मिलकर लद्दाख पर हमला नहीं कर सकते। ये भारत के दो सबसे बड़े दुश्मन पाकिस्तान और चीन को अलग करता है। ये Shaksgam Valley जो चीन के Under है और
Baltistan जिसपर पाकिस्तान का कब्ज़ा है , के बीच में पड़ता है। इसलिए इसपर सबसे ज़्यादा निगरानी की जरूरत है।

2. भारत रोज पांच से सात करोड़ रुपये इस जगह की निगरानी में खर्च करता है। जहाँ भारत के लगभग तीन हजार से भी ज़्यादा जवान दिन – रात इसकी रखवाली करते है सबसे जानलेवा माहौल में , जहाँ तापमान minus 60 डिग्री तक भी पहुंच जाता है।

3. अभी तक लगभग हज़ार से भी ज़्यादा जवानो में यहाँ अपने प्राण गवां दिए है , जैसे अप्रैल 1984 ने भारत ने इसे अपने कब्ज़े में लिया है। ये संख्या कारगिल में शहीद हुए जवानो से भी दुगनी है। इनमे से 220 ने पाकिस्तानी आर्मी के हमले के कारण शहीद हुए और बाकी यहाँ मौत से भी बदत्तर मौसम के कारण।

4. अक्सर एक जवान लगभग तीन महीने यहाँ Serve करता है , जहाँ उसे इक्कीस हज़ार फ़ीट ऊंचे बर्फ के पहाड़ो पर भी जाना पड़ता है। कभी – कभी वो 28 दिन तक लगातार चढाई करता है 128 km Area को Cover  करने के लिए। इसी बात से उनका अपने देश के लिए निःस्वार्थ प्रेम देखने को मिलता है।

5 . इंडिया अभी ग्लेशियर में Saltoro ridge पर dominating position पर है। जहाँ तीन हज़ार फ़ीट नीचे पाकिस्तान का कब्ज़ा है। सालो से भारत और पाकिस्तान में इसको लेकर हज़ारो समझोते हुए है। पर सभी नाकाम रहे। क्युकी पाकिस्तान अपनी आर्मी हटाने के लिए कभी राज़ी नहीं है। हम अपने देश की सुरक्षा में Compromise नहीं कर सकते।

दोस्तों हमारे इन्ही वीर जवानो के नाम ये कुछ line समर्पित है।

ऐ  मेरे वीर जवान सुनो , ऐ  भारत की आन सुनो ,
तेरी आँखों में है  हौसले का दरिया , दिल में है देश भक्ति का सैलाब ,
तू थकता नहीं , तू रुकता नहीं , तेरा जज़्बा है लाजवाब।
तेरी शान बड़ी निराली है , तू धरती माँ का है सच्चा रखवाला ,
ये मौसम , बर्फ , बाढ़ , तूफ़ान , कोई नहीं है तुझे रोकने वाला।
तू चलता चल , तू बढ़ता चल , तेरे हर की चाल में अंधी है
तेरे क़ुर्बानी पर तिरंगा भी तुझसे लिपट  गया , तूने उसकी शान और  बढ़ा  दी है।

दोस्तों ऐसे वीर जवानो को ये देश नमन करता है। अगर ये देश की बाहरी बुराइयों से रक्षा कर रहे है तो , हमे इस बात का ध्यान रखना चाहिए की हम इससे अंदर से गन्दा न करे। हम जवान ना सही पर भारत के वासी तो है। हमे  उनकी कुब्रानी को बर्बाद नहीं करना चाहिए।

जय माता दी। भारत माता की जय ।

Leave a Reply